top of page

Advocate

Public·190 members

क्या कोई वकील साहब बता सकते हैं कि एक कार या जीप में 5-7 आदमी बैठे हैं और वो वाहन 2-3 लोगों को कुचल देते तो क्या वाहन के चालक के अलावा बैठे दूसरे लोगों पर भी हत्या का मुकदमा या एफआईआर दर्ज होगी?

आपने बहुत ही ज्वलंत एवं चर्चित प्रश्न किया है, इस प्रश्न को लखीमपुर में चल रहे किसान आंदोलन से जोड़ कर देखा जा सकता है।

एक कार में 5 अथवा 7 व्यक्ति बैठे हैं और उस कार का ड्राइवर तेज एवं लापरवाही पूर्वक कार चलाता है और उसके कार से दो या तीन लोग कुचल कर मर जाते है, ऐसी स्थिति में, कार में बैठे यात्रियों पर कोई मुकदमा नहीं बनता, ड्राइवर पर भारतीय दंड संहिता की धारा 304 ए का मुकदमा बनता है।

यदि ड्राइवर उसी कार से किन्हीं व्यक्तियों को जानबूझकर के टक्कर मार कर कुचल देता, और वह कार को एक हथियार के रूप में उपयोग करता है, ऐसी स्थिति में ड्राइवर के ऊपर भारतीय दंड संहिता की धारा 300 हत्या का आरोप का मामला पंजीकृत किया जा सकता है, मुकदमे के विचारण के उपरांत भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के अंतर्गत निर्धारित आजीवन कारावास अथवा मृत्युदंड एवं जुर्माना की सजा से दंडित किया जा सकता है।

यदि कार में बैठे व्यक्ति, सुनियोजित एवं योजना ढंग से प्लान करते हैं की फला फला व्यक्ति को कुचल कर मारना है, इस योजना को कार का ड्राइवर, कार को एक हथियार अथवा औजार के रूप में प्रयोग कर उन लोगों को कुचल कर मार देता है, तो ऐसे योजनाकार सभी व्यक्ति सह अपराधी बनाकर ड्राइवर के समान दंडित किए जा सकते हैं।

Like

About

Welcome to the group! You can connect with other members, ge...
bottom of page